एशियाई बाजारों में तेजी के बावजूद लगातार इस सप्ताह के दुसरे और लगातार चौथे दिन घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट का माहोल देखा गया | हालाँकि आज सुबह में कारोबार की शुरुआत मिलेजुले रुख के साथ हुई लेकिन जल्दी ही सेंसेक्स और निफ्टी लाल निशान में आ गए |

               आज बाजार पुरे दिन सीमित दायरे में बना रहा लेकिन कारोबार की समाप्ति से कुछ पहले रियल्टी,आईटी,एफएमसीजी और बैंकिंग शेयरों बिकवाली का बढ़ गया और अंत में सेंसेक्स 241.41 अंक यानी 0.66% गिरकर 36,153.62 पर और निफ्टी 57.40 अंक यानी 0.53% गिरकर 10,831.40 पर बन्द हुआ |लगातार चार सत्रों में सेंसेक्स 842 अंक और निफ्टी 223 अंक गंवा चुका है |

               सरकार के द्वारा जारी दिसम्बर के आंकड़ो के अनुसार ग्रोथ और मंहगाई दोनों मोर्चों पर सरकार को सफलता हाथ लगी है। दिसंबऱ में आईआईपी ग्रोथ बढ़कर 2.4 फीसदी रही है जबकि नवंबर में ये 0.5 फीसदी रही थी। बाजार पर इसका असर देखने को नही मिला | आज बाजार में सीएनजी पर सब्सिडी खत्म होने की आशंका की खबर से गैस कंपनियों के शेयरों पर दबाव दिखा और आईजीएल और एमजीएल में 4% से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली | नोमूरा जैसी एजेन्सियों ने भी इसे गेस कंपनियों के लिए अच्छा नही बताया है।

               आगे बाजार की नजर अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर पर होने वाली बातचीत पर लगी हैं तथा  बुधवार देर रात तक इस बैठक के नतीजे आने की उम्मीद है |

इस वर्ष देश में मई में होने वाले आम चुनावों को देखते हुये वर्तमान में निवेशको को नई खरीद में सावधानी बरतनी चाहिए | गिरावट पर मजबूत फंडामेंटल और कर्ज मुक्त कम्पनियों के शेयरों में निवेश करने की सलाह है |

Leave a Comment