देश में इंजीनियरिंग क्षेत्र की अग्रणी कम्पनी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) के शेयर बायबैक प्रस्ताव को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने मंजूरी नही दी है | कम्पनी ने 9000 करोड़ रुपए के शेयर बायबैक प्रस्ताव के लिए पिछले वर्ष अक्तूबर माह में भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) को अर्जी दी थी | अर्जी के अनुसार  कंपनी 1,475 रुपए के भाव पर 6.1 करोड़ शेयर बायबैक करना चाहती थी। बायबैक के लिए 15 अक्तूबर रिकार्ड दिनांक तय की गयी थी | इस बायबैक के जरिये सरकार का अपना हिस्सा बेचना भी तय था |

                     बाजार नियामक (सेबी) ने 18 जनवरी को कम्पनी को इस बायबैक प्रस्ताव को आगे नही बढ़ाने की सलाह देते हुये बताया है कि इस बायबैक प्रस्ताव से  कंपनी के कर्ज और इक्विटी का अनुपात बिगड़ जाएगा । इस शेयर बायबैक प्रस्ताव के बाद कंपनी पर बकाया कुल गारंटी और बिना गारंटीवाला कर्ज उसकी चुकता पूंजी और फ्री रिजर्व के दोगुना से अधिक हो जाते है |

                    इस खबर के बाद कम्पनी के शेयर का भाव NSE पर पिछले बन्द भाव 1317.90 से गिरकर रू.1279 पर खुला और बाद में उच्चतम 1337.25 के स्तर को छुने के बाद 1314.55 पर बन्द हुआ | इस बायबैक के सेबी से नामंजूर होने के बाद अब देखना है कि कम्पनी अपने शेयर धारको के लिए क्या करती है क्योंकि कम्पनी की बैलेंस शीट अच्छी मात्रा में नकदी और तरलता मौजूद है | शेयर में बना रहा जा सकता है और गिरावट पर खरीदारी की जा सकती है |

Leave a Comment