बाजार को तेल का सहारा …!

आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन शुभ दिन साबित हुआ जबकि पिछले कई मंडे बाजार में मंदी के हाहाकार के कारण “ब्लैक मंडे” साबित हुये | आज भी रुपये में गिरावट जारी रहने के कारण बाजार में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला लेकिन अंत में तेल के सहारे तेजी के साथ बन्द हुआ |अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में आज कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का रुख रहा | निफ्टी और संसेक्स में क्रमशः31.60 एवं 97.39 अंको की बढ़ोतरी के साथ क्रमशः 34474.38 एवं 10348.05 पर बंद हुये | रुपया 0.25 पैसे की गिरावट के साथ 74.02 पर रहा | आज के बाजार कुछ इस प्रकार रहा :-

  • बाजार में आज दिन भर उथल-पुथल का माहोल रहा | कारोबार के दोरान संसेक्स और निफ्टी ने क्रमशः 34635.43 एवं 10398.35 अंको का उच्चतम और क्रमशः33974.55 एवं 10198.40 अंको का न्यूनतम स्तर बनाया |
  • बाजार ने दिन के आखिरी घंटे के कारोबार में शानदार वापसी की |
  • स्मालकैप और मिडकैप के शेयरों में आज बिकवाली दबाव के कारण भारी गिरावट देखी गयी | स्मालकैप और मिडकैप क्रमशः5770.20 एवं 16055.40 अंको पर बन्द हुये जो इनका पिछले 2 वर्षो का न्यूनतम स्तर है |
  • आज के बाजार के तेजी में तेल कम्पनियों,बैंको के शेयरो के साथ,यस बैंक,रिलायंस,कोटक महिंद्रा बैंक और हीरो मोटर्स, आयसर मोटर्स ने सहयोग दिया |
  • आईटी कम्पनियों के शेयरों में चल रही तेजी को आज विराम लगता दिखाई दिया |
  • धातु-इस्पात,फार्मा,फाइनेंस एवं और हाउसिंग कम्पनियों के शेयरों में मंदी का रुझान रहा |

आज के तेजी के बाद निवेशक के एक उलझन में है कि क्या बाजार की मंदी खत्म हो जाएगी ? क्या अब खरीदारी शुरू की जा सकती है ?

आज की तेजी एक छलावा ही लगती है क्योंकि अभी भी रूपये में गिरावट जारी है | IFSL का सरकारी नियंत्रण होने के बावजूद अभी भी डिफाल्ट हो रहे है | आज के बाजार की उठा-पटक और निफ्टी के 10200अंको के स्तर को कारोबार के दौरान तोडना आदि से लगता है की अभी बाजार में खरीदारी का सही समय नही है | अपने निवेश और पूंजी को बचाने के लिए निवेशको को अभी खरीदारी से बचना चाहिए |

Leave a Comment