आ सकता है करेक्शन ? संभल कर निवेश करे

जनवरी महीने में बाजार काफी चल चुका है, इसमें चौतरफा खरीदारी न होकर सिर्फ दिग्गजों में खरीदारी देखने को मिली है,जिसके परिणाम स्वरूप बाजार ने अभी तक के ऐतिहासिक उच्चतम स्तर पर पहुंचने का रिकार्ड बनाया है |

एक्सपायरी के बाद बाजार की नजर अब बजट पर है। वर्तमान सरकार का यह आखिरी पूर्ण बजट होगा | आगामी लोकसभा के चुनाव भी अवधि पूर्व यानि इसी साल होने की सम्भावना लगायी जा सकती है | ऐसे में यह बजट लोकलुभावना होने के साथ-साथ सरकार का फोकस ग्रामीण क्षेत्र, हाउसिंग और इंफ्रा सेक्टर पर रह सकता है  | साथही बाजार में करेक्शन की सम्भावना से भी इन्कार नही किया जा सकता है, क्योंकि बाजार मंहगे वैल्यूएशन पर नजर आ रहा है अत: अब मध्यम (मीडियम) और दीर्घावधि (लॉन्गटर्म) निवेशकों को थोड़ा सतर्क रहने की जरूरत है।

एलएंडटी,एचडीएफसी,लूपिन जैसे मजबूत फंडामेंटल वाली अच्छी कंपनियों के शेयरों में निवेश है तो डरने की जरूरत नहीं है।

Leave a Comment