वित्तीय वर्ष 2018 में आर्थिक स्वास्थ्य के लिये 20 सूत्र –

 

  • धनवान होने के लिए यह महत्वपूर्ण नही है कि आपके पास आलीशान मकान और कार है ,अपितु यह महत्वपूर्ण है कि आपकी बचत और निवेश (SAVING AND INVESTMENT) क्या है |
  • हमेशा अपनी आय और खर्च में सन्तुलन (BALANCE) बनाने हेतु प्रयासरत रहे ताकि असामयिक खर्चो से अपनी आर्थिक क्षमता को बनाये रखा जा सके | इसके लिए “पहले बचत,बाद में खर्च”को अपनाएं |
  • हमेशा भविष्य की लाइफ़ में आने वाली जिम्मेदारीयो-अवसरों और स्वयं एवं परिवार सदस्यों के करियर्स के लिए आर्थिक जरुरतो को ध्यान में रखते हुये ही वर्तमान में निवेश की योजना बनाये एव उसे कार्यरूप देवे |
  • अपनी आय का 20 से 25 प्रतिशत भाग सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के माध्यम से करना शुरू करे |
  • अपनी सम्पदा (WEALTH) का कम से कम 25 प्रतिशत भाग तरलता (CASH,BANK-BALANCE) के रूप में रखें ताकि किसी जरूरत के समय अन्य निवेश को प्रभावित किये बगेर उपयोग किया जा सके |
  • MONEY INFLATION के प्रभाव को ध्यान में रखते हुये आवश्यकता से अधिक बहुत बड़ी मात्रा में धनराशी बैंक के बचत खाते में नही रखे |
  • “Mutual fund investment are subject to market risk. Please read the offer documents carefully before investing”.अधिकांश व्यक्ति इस चेतावनी के कारण म्युचल फण्ड में निवेश करने से घबराते है और निवेश करना अवॉयड करते है | यह सही है कि यह एक चेतावनी है,परन्तु म्युचल फण्ड में निवेश पूर्व फण्ड की पिछली history and growth का ध्यानपूर्वक अध्ययन करके निवेश जोखिम को कम या न्यूनतम किया जा सकता है |
  • लोन से प्रोपर्टी खरीदने में परहेज करे, यदि आपके पास लोन चुकाने हेतु क्लियर प्लान नही हो वरना आपकी कमाई का अधिकतम हिस्सा और नकदी तरलता लोन की अदायगी में चली जाएगी |
  • अगर रोजमर्रा के लिए कार की आवश्यकता नही होने तक कार नही खरीदे |
  • शादी;शादी की साल-गिरह,जन्मदिन आदि अवसरों पर अनावश्यक रूप से अत्यधिक खर्च नही करके मितव्ययता अपनाने का प्रयास करे |
  • शेयर मार्किट भी निवेश का एक तरीका है जिससे लम्बी अवधि के नजरिये से ही निवेश करना अत्यधिक लाभप्रद है |
  • शेयर मार्किट में लम्बी अवधि और अल्पावधि (trading)निवेश के लिए दो अलग-अलग खाते रखे ताकि न केवल निवेश का प्रभावशाली तरीके से नियन्त्रण किया जा सके अपितु ,टेक्स की गणना में भी सरलता से की जा सके |
  • शेयर मार्किट में निवेश करने पर स्टॉक्स पर ध्यान रखे | शेयर मार्किट पर नियमित ध्यान रखते हुये अपने ज्ञान को UP TO DATE रखें |
  • हमेशा सदाबहार (EVERGREEN) और मजबूत फंडामेंटल वाली कंपनियों के शेयर में आवश्यक जानकारी प्राप्त करके ही निवेश करे |
  • प्राइमरी मार्किट के अन्तर्गत अच्छी कंपनियों के आईपीओ में आवेदन करे |
  • कभी भी बीमा में निवेश रिटर्न के लिए नही करे क्योंकि बीमा में निवेश करना सिर्फ जोखिम प्रबन्धन है |
  • क्रेडिटकार्ड का उपयोग सदैव समझदारी से करे | कभी भी अनावश्यक खर्चो के लिए नही करे |
  • क्रेडिटकार्ड की आवश्यकता नही होने पर इसे तुरन्त बन्द करा देवें |

उपरोक्त सभी से महत्वपूर्ण है “आपका स्वास्थ्य” |

स्वास्थ्य ही आपका सबसे बड़ा निवेश (INVESTMENT) है अत:नियमित रूप से स्वयं और परिवार के हेल्थ की जाँच कराते रहे |

 हमेशा प्रसन्नता के साथ व्यस्त और मस्त रहे |

One Thought to “Financial Tips for 2018”

  1. Tried to find any method of additional income and always failed until I finally found something legit: http://bit.ly/2ODt2Tt – You get 30 on all products, all you have to do is copy your affiliate link and comment on blogs, forums etc. Just register and confirm your accouunt, go to affiliate links section, copy your favorite product link and spread it all over the internet. Piece of cake!

Leave a Comment